top of page

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने जिलाधिकारियों के साथ बातचीत की, सुशासन में उनकी भूमिका के बारे में बात

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने बातचीत में कहा, सुशासन में जिला प्रशासन की महत्वपूर्ण भूमिका है। यह सरकार को योजनाओं को बेहतर तरीके से लागू करने में मदद करता है।

नई दिल्ली: प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश के विभिन्न हिस्सों के जिलाधिकारियों के साथ प्रमुख सरकारी योजनाओं के इम्प्लीमेंटेशन पर बातचीत की। पीएम मोदी ने कहा, "सुशासन में जिला प्रशासन की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। यह सरकार को योजनाओं को बेहतर तरीके से लागू करने में मदद करता है। क्षेत्र के दौरे और निरीक्षण के लिए डिटेल्ड गाइडलाइन्स बनाए जाने चाहिए।" बातचीत में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी हिस्सा लिया।

पीएम मोदी के भाषण से कुछ मुख्य बातें:

  • आकांक्षी जिलों में अच्छे परिणाम देने वाले केंद्र, राज्यों और स्थानीय प्रशासन का टीमवर्क

  • आकांक्षी जिलों के अधिकारी अब अपने प्रयासों से लोगों के जीवन में सुधार को देखकर काफी संतुष्टि महसूस करते हैं।

  • हर जिले को दूसरों की सफलता से सीख लेनी चाहिए और उनकी चुनौतियों का मूल्यांकन करना चाहिए।

  • टॉप टू बॉटम के साथ-साथ बॉटम तू टॉप शासन का फ्लो सुनिश्चित करने के लिए प्रशासन और जनता के बीच प्रत्यक्ष, भावनात्मक जुड़ाव की आवश्यकता है।

सरकार ने 22 राज्यों के 142 जिलों की पहचान सिर्फ एक या दो मानकों पर की है; उन्हें इन मानकों को एड्रेस करने के लिए इसे चुनौती के रूप में लेना चाहिए ।

बातचीत के दौरान, प्रधान मंत्री ने डीएम से अपने जिलों में प्रत्येक नागरिक को विभिन्न सरकारी लाभ समयबद्ध तरीके से लेने की योजना बनाने को कहा। उन्होंने अपने-अपने जिलों को ग्लोबल मंच पर विज़िबल बनाने के लिए इसे एक मिशन के रूप में लेने के लिए भी कहा।

תגובות


bottom of page